धार्मिक जागृति - Dharmik Jagriti (Guru Ram Das Ji)

धार्मिक जागृति – Dharmik Jagriti (Guru Ram Das Ji)

सिख संगत भारी संख्या में गुर – दरबार में आती थी। गुर उपदेश ग्रहण करती और प्रभु के रंग में रम जाती। Read more about धार्मिक जागृति – Dharmik Jagriti (Guru Ram Das Ji)

अमृतसर में रौनक - Light Decorations in Amritsar

अमृतसर में रौनक – Decorations in Amritsar (Guru Ram Das Ji)

गुरू अमरदास जी के ज्योति में विलीन होने के पश्चात अमृतसर शहर के निर्माण कार्य की ओर विशेष ध्यान नहीं दिया जा सका था। Read more about अमृतसर में रौनक – Decorations in Amritsar (Guru Ram Das Ji)

ज्योति में विलीन होना - Jyoti Mein Vileen Hona

सिखों के उज्जवल भविष्य की नींव – Foundation for the Bright Future of the Sikhs

अमृतसर शहर का बसना और यहां पर (पांचवें पातशाह के समय) प्रमुख धर्म स्थान श्री दरबार साहिब का निर्माण किया जाना और छटे पातशाह के समय श्री अकाल तख्त साहिब का निर्माण, इस नगर की कौमी व अंतर्राष्ट्रीय प्रसिद्धि का कारण बना। Read more about सिखों के उज्जवल भविष्य की नींव – Foundation for the Bright Future of the Sikhs

ज्योति में विलीन होना - Jyoti Mein Vileen Hona

नित्य की दिनचर्या

श्री अमृतसर साहिब में निवास करते समय श्री गुरू रामदास जी का जो नित्य का व्यवहार था, उसका वर्णन महिमा प्रकाश व सूरज प्रकाश में मिलता है। Read more about नित्य की दिनचर्या

ज्योति में विलीन होना - Jyoti Mein Vileen Hona

लाहौर का दौरा

लाहौर से भाई सिहारी मल जी व अन्य सिख संगत की यह प्रबल इच्छा थी कि सतगुरू जी अपनी जन्म भूमि पर एक बार फिर चरण डालें। Read more about लाहौर का दौरा

ज्योति में विलीन होना - Jyoti Mein Vileen Hona

अकबर का आगमन

गुरू रामदास जी लाहौर से वापिस अमृतसर आए ही थे कि बादशाह अकबर भी काबुल की लड़ाई से वापिसी पर सन 1579 में श्री अमृतसर आया। Read more about अकबर का आगमन

बाबा श्री चंद जी का दर्शनार्थ आना - Baba Shri Chand ji's visit (Guru Ram Das Ji)

बाबा श्री चंद जी का दर्शनार्थ आना – Baba Shri Chand ji’s visit (Guru Ram Das Ji)

श्री गुरू नानक देव जी के बड़े सपुत्र बाबा श्री चंद जी ने अपना भिन्न मत चला लिया था, जिस को उदासी मत कहा जाता है। Read more about बाबा श्री चंद जी का दर्शनार्थ आना – Baba Shri Chand ji’s visit (Guru Ram Das Ji)

अनोखा सेवक - भाई हिंदाल जी - Anokha Sewak Bhai Hindal Ji (Guru Ram Das Ji)

अनोखा सेवक – भाई हिंदाल जी – Anokha Sewak Bhai Hindal Ji (Guru Ram Das Ji)

भाई हिंदाल गुरू जी के अनन्य सिख हुए हैं। आप जिला अमृतसर के जंडियाला नगर के रहने वाले थे। आप गुरू के लंगर में दिन रात सेवा किया करते थे। Read more about अनोखा सेवक – भाई हिंदाल जी – Anokha Sewak Bhai Hindal Ji (Guru Ram Das Ji)

मानसिक शांति कैसे हो - How is Peace (Guru Ram Das Ji)

मानसिक शांति कैसे हो – How is Peace (Guru Ram Das Ji)

धर्म मार्ग के राहियों की प्रबल इच्छा मानसिक शांति होती है। संसार के झमेलों में मनुष्य को कई प्रकार की चिंताएं घेरे रखती हैं। माया भिन्न-भिन्न रूपों में धर्म- मार्ग की राह में आ खड़ी होती है। Read more about मानसिक शांति कैसे हो – How is Peace (Guru Ram Das Ji)

श्री राजीव गांधी - Rajiv Gandhi

श्री राजीव गांधी

इन्दिरा गांधी के आकस्मिक निधन से भारत को एक ऐसा झटका लगा था, जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती थी। जब रक्षक ही भक्षक बन जाए, तो फिर किस पर विश्वास किया जा सकता है। Read more about श्री राजीव गांधी